Full From Of TRF

Rate this post

आज हम जानेंगे full from of trf के बारे में TRF का full from होता है – Transfer एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे ट्रांफर करने वाली विधि को TRF कहते है बैंक हमारे खाते से कई प्रकार का चार्ज करते है जैसे ATM कार्ड लेनदेन हो या बैंक अकाउंट का statement इंटरनेट बैंकिंग चार्जेस RTGS चार्ज हो , NEFT चार्ज हो मोबाइल बैंकिंग चार्ज को बैंक द्वारा काटा जाता है यह सब TRF में आता है।

full from of trf
full from of trf

जब हम एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे ट्रांसफर करते है उसे TRF बोलते है। लेकिन TRF के बारे में बहुत से लोगो को दिक्कत होरही है की मैंने किसी प्रकार का फण्ड ट्रांफर नहीं किया तो TRF क्यों कट रहा है तो जैसे हमने अभी – अभी बताया की TRF बहुत से सर्विसेज में जुडी रहती है जैसे ,हम किसी भी ATM में जाके स्टेटमेंट निकालते उसमे भी TRF चार्जेज होता एटीएम कार्ड को स्तेमाल करने से भी TRF कटता है तो TRF का शार्ट from TRF होता है और full from of trf – Transfer होता है।

और TRF सफलतापूर्वक फण्ड – ट्रांसफर का एक कोड होता है TRF को बैंक का कोड भी बोलते है बैंक द्वारा चार्जेस कटे जाने वाले को TRF नाम दिया गया है। जो बी अकाउंट में छोटे लेनदेन से बड़े लेनदेन होता है उसमे TRF की जानकारी दिया रहता है जैसे हम UPI के थरु फण्ड ट्रांसफर करते है उसमे में TRF काटा जाता लेकिन TRF बहुत कम अमाउंट होता है बैंक के द्वारा एक छोटीसी राशि काटी जाती है उसे हम TRF का नाम दे सकते है।

क्यों बैंक अपना सर्विस फ्री में नहीं देती है क्युकी बैंक में जितने भी सर्विस यूज़ करते है उन सभी सर्विस में छोटा – छोटा TRF चार्जेस लेते है लेकिन TRF का जो full from होता है उसे अलग – अलग नाम से नहीं जाना जाता TRF को सिर्फ और सिर्फ Transfer Fund के नाम से जाना जाता है।

full form of trf in banking

full form of trf in banking एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में राशि हस्तांत्रिक को TRF को बैंक विवरण में जोड़ा जाता है जब हम किसी बैंक में राशि डालते है तो हमें दिखाया जाता है अपने पासबुक में TRF जिससे हम समझ सकते है की बैंक से कटे गए चार्जेज।

full form of trf in banking

सीमा से अधिक नकद जमा और निकासी पर TRF शुल्क लगाया जाता है। इसे हम full form of trf in banking – बैंकिंग में trf का पूर्ण रूप एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर को TRF बोलते है, हम उम्मीद करते है की अब आपको TRF के बारे सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त होगया।

बैंक कोनसे कोनसे सर्विस का TRF चार्जेज लेता है ?

  • यदि आप अपने बैंक अकाउंट में राशि मेंटेन नहीं करते तो बैंक द्वारा चार्जेज काटने पर TRF दिखाता है।
  • Daily withdrawal चार्जेस।
  • Monthly Cash Transaction चार्जेस।
  • सीमा से अधिक नकद जमा और निकासी पर TRF शुल्क लगाया जाता है।
  • Cash Handling Fee चार्जेस।
  • नकद जमा मशीन पर किए गए नकद जमा लेनदेन पर सुविधा शुल्क।
  • शाखा लेनदेन पर उचित उपयोग शुल्क।
  • बाहरी चेक संग्रह शुल्क।
  • आरटीजीएस शुल्क (शाखा)।
  • आरटीजीएस शुल्क (ऑनलाइन)
  • एनईएफटी लेनदेन सीमाएं (प्रति तिमाही शुल्क) ।
  • शाखा लेनदेन पर उचित उपयोग शुल्क।
  • एनईएफटी शुल्क (शाखा)।
  • एनईएफटी TRF शुल्क (ऑनलाइन)।
  • आईएमपीएस TRF शुल्क।
  • स्पीड क्लियरिंग TRF शुल्क।
  • बैंक एटीएम: TRF शुल्क लेनदेन की संख्या।
  • गैर-बैंक एटीएम : TRF शुल्क लेनदेन की संख्या।
  • नॉन-बैंक एटीएम: सीमा से अधिक नकद निकासी (वित्तीय लेनदेन) शुल्क।
  • एटीएम लेनदेन पर अधिकतम लेनदेन गणना सीमा शुल्क।
  • अंतर्राष्ट्रीय नकद निकासी TRF शुल्क (एटीएम)।
  • अंतर्राष्ट्रीय बैलेंस पूछताछ शुल्क (एटीएम)।
  • ईसीएस/एनएसीएच लेनदेन शुल्क।
  • डेबिट कार्ड से खरीदे गए रेलवे टिकट पर TRF सरचार्ज।
  • अंतर्राष्ट्रीय डेबिट कार्ड लेनदेन पर क्रॉस करेंसी मार्क-अप सरचार्ज।
  • पेट्रोल पंपों पर सरचार्ज।
  • औसत बैलेंस/टीआरवी न बनाए रखने पर लेनदेन शुल्क।
  • बचत खाते में 18-24 महीने तक कोई लेनदेन न करने पर एकमुश्त शुल्क।

जितने भी बैंक सर्विस चार्जेज है यह सब TRF में आता याने के याने की बैंक द्वारा चार्जेस काटे जाने पर आपके बसबूक में TRF लिखता है

TRF शुल्क क्या होता ?

Leave a Comment